जलदाय मंत्री किरण माहेश्वरी नें किया मानसीवाकल के आकोदड़ा बांध का अवलोकन

Nov 21,2014

देवास और मानसी वाकल योजना की तृतीय व चतुर्थ चरण की शीघ्र डीपीआर बनाने के निर्देश
उदयपुर 15 नवम्बर । जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी एवं भूजल मंत्री किरण माहेश्वरी नें जन-जल उपलब्धता की महत्वकांक्षी योजना मानसी वाकल और देवास की तृतीय व चतुर्थ विस्तृत योजना विवरण (डीपीआर) अतिशीघ्र बनाने हेतु अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि जल भंडारण का समुचित प्रयास कर आमजन को शुद्ध पेयजल उपलब्ध करवाया जाएगा।
भाजपा जिला मीडिया प्रभारी अनिल चतुर्वेदी नें बताया कि जलदाय मंत्री किरण माहेश्वरी नें शनिवार को मानसी वाकल के आकोदड़ा बांध का अधिकारियों के साथ तूफानी दौरा कर योजना का विस्तृत अवलोकन किया। किरण नें दौरे के दौरान पत्रकारों से वार्तालाप करते हुए कि मानसी वाकल योजना को अतिशीघ्र पूरा कर किन किन जिलों तक इसका पानी पहुँचाया जा सकता है। इसका त्वरित गति से प्रयास किया जाएगा। उन्होनें राजस्थान से पानी व्यर्थ समुद्र में बहकर जाने की बजाय उसके समुचित भण्डार पर जोर देते हुए कहा कि जनसंख्या के अनुपात में आमजन तक पानी सहजता से उपलब्ध नहीं हो पा रहा है। यह विचारणीय विषय है इस दिशा में गंभीर प्रयास कर प्रदेश को पेयजल संकट से मुक्त करना होगा। इस हेतु राज्य व केन्द्र सरकार के साझा प्रयासों से इस लक्ष्य को प्राप्त करने का प्रयास किया जाएगा।
किरण नें कहा कि प्रदेश के जिन क्षेत्रों में फ्लोराइड युक्त तथा खारा पानी है, वहाँ हमारा प्रयास होगा कि पीपीपी मोड़ पर बड़े आरओ प्लान्ट लगाकर फ्लोराइड से प्रभावित आमजन को शुद्ध पेयजल उपलब्ध करवाया जाएगा। उन्होनें मौजूद अधिकारियों को देवास योजना की अतिशीघ्र क्रियान्विति करने हेतु योजना की डीपीआर का कार्य शीघ्रता से पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होनें उदयपुर में 48 घंटों में पानी उपलब्ध कराने के बजाय 24 घंटें में पेयजल उपलब्ध कराने की दिशा में अधिकारियों को सर्वे कर रिपोर्ट शीघ्र सौपनें के निर्दश भी दिये । जलदाय मंत्री के साथ सिंचाई विभा के अतिरिक्त मुख्य अभियंता अशोक बाबेल, जलदाय विभाग के मुख्य अभियंता के.वी.एस राणावत, अधीक्षण अभियंता राजेन्द्र भारद्वाज, योजना के अधीक्षण अभियंता दुर्गेश गौड़, सहित जलदाय विभाग व सिंचाई विभाग के अधिशाषी अभियंता, सहायक अभियंता, कनिष्ठ अभियंता सहित कई अधिकारी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *